बाबर (BABAR)

मुगल वंश (1526-1857)

1) बाबर का जन्म 24 फरवरी 1483 फरगना में हुआ था।

2) बाबर का पूरा नाम बहुरादिन बाबर था।

3) बाबर ने 1526 में पानीपत की लड़ाई में इब्राहिम लोधी को हराकर मुगल वंश की नींव रखी।

4) खानवा का युद्ध=1527।

5) चंदेरी का युद्ध=1528।

6) घाघरा का युद्ध।

7) बाबर को गाजी और कलंदर (kalandar) की उपाधि दी गई और कैलेंडर की उपाधि दी गई।

8) बाबर एक पहला ऐसा शासक था, जिसने तोपों और बंदूकों का प्रयोग किया।

9) उस्ताद अली और मुस्तफा इनके तोपची और बंदूकबाज थे।

10) आत्मकथा-    बाबरनामा (तुर्की भाषा में जिसका नाम तुजुक-ए -बाबरी था)।

11) बाबर की मृत्यु 1530 में ‘आरामबाग’ आगरा में हुई।

12) बाबर ने ‘मुबईयान शैल’ पद शैली को विकसित किया।

13) बाबर का मकबरा काबुल में है, बाबर का मक़बरा आगरा से काबुल अकबर ने स्थानांतरित किया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.