चार्टर एक्ट 1833 (CHARTER ACT 1833)

CHARTER ACT 1833 –

.CHARTER ACT 1833- में  बंगाल का गवर्नर जनरल पूरे भारत का गवर्नर जनरल बना दिया गया।

.चाय के व्यापार तथा चीन के साथ व्यवहार पर कंपनी के एकाधिकार को समाप्त कर दिया।

.कंपनी के ऋणों की जिम्मेदारी भारत सरकार ने अपने ऊपर ले ली।

.कंपनी के किसी पद पर नियुक्ति के लिए सभी भारतीयों से समानता के आधार पर व्यवहार करने की बात कही गई।

महत्वपूर्ण तथ्य

.महत्वपूर्ण तथ्य में  लॉर्ड मार्ले के अनुसार-

यह अधिनियम ब्रिटिश संसद द्वारा 1909 के पास किए गए अधिनियम में सबसे महत्वपूर्ण अधिनियम था।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.