Cooling And Heating Of The Atmosphere

Cooling And Heating Of The Atmosphere depend on various factor

वायुमंडल को ठंडा और गर्म करने वाली क्रियाएं

(01) विकिरिण (Radiation)

किसी पदार्थ को ऊष्मा तरंगों के संचार द्वारा सीधे गर्म होने को विकिरण कहते हैं ।

(2) संचालन  (Conduction)

पृथ्वी के संपर्क में आने वाली वायु गर्म होकर धाराओं के रूप में ऊपर की ओर उठती है और वायुमंडल में ताप का संचरण करती है।

(3) अभिवहन (Advection)

वायु के क्षैतिज ऊर्जा (horizontal energy) से होने वाले ताप का स्थानांतरण अभिवहन कहलाता है।

(4) संवहन (Convection)

वायुमण्डल के उर्ध्वाधर तापन की इस प्रक्रिया को संवहन कहते हैं। ऊर्जा की यह स्थांतरण प्रक्रिया केवल क्षोभ मंडल में होती है।

Cooling And Heating Of The Atmosphere

तापमान

भूतल के लगभग एक मीटर ऊपर स्थित वायु की गर्मी को उस स्थान का तापमान कहते है।

अधिक तथा न्यूनतम तापमान के अंतर को तापान्तर कहते है, इसके दो प्रकार है।

(1) दैनिक तापान्तर 

किसी स्थान के किसी दिन-रात के उच्चतम और निम्नतम तापक्रम के अन्दर को दैनिक तापान्तर (Diurnal Temperature) कहते हैं।

(2) वार्षिक तापांतर

पृथ्वी के अधिकतर स्थानों में जनवरी और जुलाई के तापमानों में ही सबसे अधिक अंतर मिलता है। इनमें एक जाड़े की ऋतु होती है, और दूसरी गर्मी की। इन दोनों महीनों के औसत तापक्रम के अंतर को वार्षिक तापांतर कहते हैं।

सरल भाषा में हम कह सकते है की  किसी स्थान पर सबसे गर्म और ठंडे महीने के मध्य ताप के अंतर को वार्षिक तापांतर कहते हैं।

तापीय विसंगति

एक निश्चित समय में एक ही अक्षांश रेखा पर स्थित दो स्थानों के तापमान के इसी अन्तर को ”तापीय विसंगति” कहा जाता है ।

उदाहरण के लिए मान लीजिये की कोई दो जिले में जो एक अक्षांश रेखा पर है, परन्तु दोनों जिले में तापमान अलग है। इन दोनों जिलों के अलग तापमान को अब हम तापीय विसंगति कह सकते है।

तापमान प्रतिलोमन

छोभ मंडल में  प्रति 155 मीटर की ऊंचाई पर तापमान 1 डिग्री सेल्सियस घटता है। लेकिन यदि धरातल के किसी विशेष भाग में ऊंचाई बढ़ने के साथ-साथ तापमान घटने के बजाय बढ़ना प्रारंभ हो जाए तो उसे तापीय प्रतिलोमन कहते हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.