Getting to know plants

Getting to know plants

science for Class 6 Chapter 7 in hindi

बाहर जाओ और अपने आस-पास के सभी पौधों का निरीक्षण करो।

क्या आप देखते हैं कि कुछ पौधे छोटे होते हैं, कुछ बहुत बड़े होते हैं, जबकि कुछ मिट्टी पर हरे रंग के धब्बे होते हैं?

कुछ में हरी पत्तियाँ होती हैं जबकि कुछ में लाल रंग की पत्तियाँ होती हैं।

कुछ में बड़े लाल फूल होते हैं, कुछ में छोटे नीले फूल होते हैं, और कुछ में कोई नहीं होता है।

हम देखते हैं कि स्कूल के रास्ते में स्कूल के मैदान में हमारे चारों ओर हमारे घरों के पास तरह-तरह के पौधे मौजूद हैं।

Getting to know plants
Getting to know plants

Herbs, Shrubs And Trees

आप से बहुत छोटा पौधा।

पौधे जो आपके आकार के हैं, और पौधे जो आपसे काफी लम्बे हैं।

जैसे टमाटर का पौधा छोटा होता है आम का पेड़ बहुत लंबा होता है और निम्बू का पौधा इंसान की लंबाई जितना बड़ा होता है।

हरे और कोमल तनों वाले पौधे जड़ी-बूटी(Herbs) कहलाते हैं। वे आमतौर पर छोटे होते हैं और उनकी कई शाखाएँ नहीं हो सकती हैं।

कुछ पौधे तने के आधार के पास शाखाएँ विकसित करते हैं। तना सख्त है लेकिन बहुत मोटा नहीं है। ऐसे पौधों को झाड़ी(Shrubs) कहा जाता है।

कुछ पौधे बहुत ऊँचे होते हैं और कठोर और मोटे तने वाले होते हैं, तनों की शाखाएँ ऊपरी भाग में जमीन से काफी ऊपर होती हैं ऐसे पौधों को पेड़(Tree) कहा जाता है।

कमजोर तने वाले पौधे जो सीधे खड़े नहीं हो सकते हैं लेकिन जमीन पर फैले हुए हैं उन्हें  बेल (Creepers) (उदाहरण के लिए तरबूज, खरबूजा ) कहा जाता है।

जबकि जो समर्थन लेते हैं और ऊपर चढ़ते हैं उन्हें आरोही (Climbers) (उदाहरण के लिए money plant) कहा जाता है।

तना(Stem) का कार्य क्या है?

तना पानी को पौधे के ऊपरी भाग तक पहुंचाने में मदद करता है, और जो पानी में विलीन खनिज, पानी के साथ तने में ऊपर पहुंच जाते हैं।

पत्तियां (Leaves)

पत्तियां दो तरह की होती है जालिका रूपी (Reticulate) और समांतर(Parallel venation)

पत्ती का वह भाग जिससे वह तने से जुड़ा होता है, पर्णवृन्त(Patiole) कहलाता है, पत्ती के चौड़े, हरे भाग को फलक(Lamina) कहते हैं।

जल की बूंदें पत्ती से जल वाष्प के रूप में बाहर निकलती है इस क्रिया को वाष्पोत्सर्जन(Transpiration) कहते हैं।

सजीव कोशिकाओं के द्वारा प्रकाशीय उर्जा को रासायनिक ऊर्जा में परिवर्तित करने की क्रिया को प्रकाश संश्लेषण (photosynthesis) कहते है।

इस प्रक्रिया में जल एवं कार्बन डाइऑक्साइड (CO2) का उपयोग पत्तियां करती है, और इसके बदले में वे ऑक्सीजन (O2) बाहर छोड़ती है।

सूरज की रोशनी से पेड़ पौधों की पत्तियां अपना भोजन बनाती हैं।

हरे रंग की पतियों में क्लोरोफिल (Chlorophyll)मौजूद होता है।

Getting to know plants

Getting to know plants
Getting to know plants

जड़ (Root)

जड़ पौधे को मिट्टी में खड़ा रखती है, मिट्टी में मौजूद खनिज और पानी भी जोड़ों के द्वारा तने तक पहुंचाया जाता है।

जड़े 02 प्रकार की होती है मसूला जड़ (Tap root) रेशेदार जड़ (Febrous roots)।

छोटी जड़ों को पार्षव जड़ कहते हैं।

जैसे आप चने को रात को भिगोने रखते हैं और सुबह तक वह भीग जाते हैं और एक-दो दिन के बाद उनमें से जड़ निकलना शुरू हो जाती है तो वह जड़ होती है (मसूला जड़ का उदाहरण)

मक्की के दाने में भी ऐसा ही होता है। ( रेशेदार का उदाहरण)

पुष्प (Flower)

खिले हुए पुष्प का प्रमुख भाग पुष्प की पंखुड़ियां (Petals) कहलाती है।

फूल का हरा भाग जिससे फूल खिलता है यानी कि बाहर निकलता है उस भाग को बाह्यदल (Sepals) कहते हैं।

फूल के अंतरतम भाग(Innermost) को स्त्रीकेसर(Pistil) कहते हैं।

स्त्रीकेसर(Pistil) के भाग

Style(वर्तिका) Stigma (वर्तिकाग्र) Ovary (अंडाशय)

स्त्रीकेसर का सबसे निचला एवं फुला हुआ भाग है उसे काटा जाए तो उसमें से आप देखेंगे कि अंडाशय में छोटी-छोटी गोल संरचनाएं दिखाई देती हैं जिसे बीजांड (Ovules) कहते हैं।

Class 6 Science Chapter 7 Getting to Know plants Question answer

प्रश्न: पुष्प के किस भाग में अंडाशय मिलता है? 

उत्तर: अंडाशय स्त्रीकेसर का सबसे निचला और फूला हुआ भाग होता है।

प्रश्न: जड़े कितने प्रकार की होती हैं?

उत्तर: जड़े दो प्रकार की होती है- मसूला जड़ और रेशेदार जड़

Getting to know plants

 

अन्य पढ़ें:

Leave a Reply

Your email address will not be published.